Breaking News

पंजाब एफसी 12वें क्लब के रूप में इंडियन सुपर लीग में शामिल होगा

मोहाली, 2 अगस्त: आई-लीग 2022-23 का मौजूदा चैंपियन पंजाब एफसी इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के आगामी 2023-24 सीज़न में शामिल होने की घोषणा करते हुए काफी गर्व महसूस कर रहा है। आई-लीग में क्लब की शानदार जीत के साथ-साथ आईसीएलएस प्रीमियर 1 लाइसेंसिंग को सफलतापूर्वक पूरा करने पर उन्हें भारतीय फुटबॉल की शीर्ष स्तरीय लीग में एक योग्य स्थान प्राप्त करवाया है। इसके साथक्लब आई-लीग से इंडियन सुपर लीग में प्रोमोट होने वाला भारत का पहला क्लब बन गया है।

पंजाब एफसी ने पूरे आई-लीग 2022-23 सीज़न में असाधारण प्रदर्शन किया थापूरी प्रतियोगिता में अपने प्रतिद्वंदियों पे हावी रहा था और अंक तालिका में शीर्ष स्थान प्राप्त किया था । टीम ने असाधारण कौशल और समर्पण का प्रदर्शन करते हुए 16 मुकाबले जीते थे जबकि चार ड्रॉ खेले और केवल दो मैचों में हार झेलनी पड़ी। टीम ने मैदान पर अपनी क्षमता को उजागर करते हुए कुल 45 गोल भी किये।

इस महत्वपूर्ण अवसर पर राउंडग्लास के संस्थापक और पंजाब एफसी की जबरदस्त वृद्धि के पीछे प्रेरक शक्ति सनी सिंह ने कहा, “पंजाब एफसी का आईएसएल में शामिल होना हमारे खिलाड़ियों और साथियों की कड़ी मेहनत और दृढ़ता की मान्यता है। आई-लीग से आईएसएल तक टीम की तीव्र प्रगति असाधारण हैऔर हम भारतीय फुटबॉल के उच्चतम स्तर पर प्रतिस्पर्धा करने की चुनौती को स्वीकार करने के लिए रोमांचित हैं। हमारा लक्ष्य आईएसएल में एक स्थायी छाप छोड़ना और पूरे भारत में युवा प्रतिभाओं के लिए प्रेरणा बनना है।

पंजाब एफसी के तकनीकी निदेशक (टेक्निकल डायरेक्टर) निकोलाओस टोपोलियाटिस ने भी क्लब के नए अध्याय के लिए अपना उत्साह साझा किया और कहा, “इंडियन सुपर लीग का हिस्सा बनना पंजाब एफसी के इतिहास में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है। हमने फुटबॉल के एक ऐसे ब्रांड को खेलने की अपनी विचारधारा का पालन किया है जो देश भर के युवा बच्चों को इस खेल को अपनाने के लिए प्रेरित करता है और हमने इसे आगे बढ़ाया है। हमने अपने आगामी सीज़न के लिए उभरती प्रतिभाओं का एक समूह इकट्ठा किया है। हमारा ध्यान फुटबॉल के इस रोमांचक ब्रांड को बढ़ावा देने पर है और हम देश की सर्वश्रेष्ठ टीमों के खिलाफ प्रतिस्पर्धा करने के लिए उत्सुक हैं।

आईएसएल के सबसे नए खिलाड़ी के रूप मेंपंजाब एफसी का लक्ष्य अपनी विरासत को आगे बढ़ाना और अनुभवी दावेदारों के बीच अपनी उपस्थिति दर्ज कराना है और वह भारतीय फुटबॉल परिदृश्य पर एक स्थायी छाप छोड़ने के लिए तैयार है।

Check Also

गरीबी से जूझ रही छोटे शहर की लड़कियां पश्चिम बंगाल फुटबॉल टीम की हैं रीढ़

वास्को, 28 अक्टूबर, 2023: ऐसा प्रतीत होता है कि पश्चिम बंगाल के दक्षिण पश्चिम क्षेत्र का एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published.