Breaking News

मेहुली घोष ने 37वें राष्ट्रीय खेलों में 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में जीता स्वर्ण पदक

पणजी, 7 नवंबर: पश्चिम बंगाल की मेहुली घोष ने गोवा में जारी 37वें राष्ट्रीय खेलों में 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में मंगलवार को स्वर्ण पदक जीत लिया। मंड्रेम शूटिंग रेंज में महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में 24 शॉट्स के फाइनल के दौरान उन्होंने कमाल कर दिया। स्वर्ण पदक जीतने से उत्साहित पश्चिम बंगाल की राइफल निशानेबाज ने कहा, ” मैंने यहां (गोवा) स्वर्ण जीतने की योजना बनाई थी। मुझे खुशी है कि मैं अपने लक्ष्य को हासिल करने में सफल रही।”यहां मंड्रेम रेंज में मंगलवार को मेहुली का प्रदर्शन शानदार रहा। उन्होंने कुल 633.1 अंक हासिल कर क्वालीफिकेशन में शीर्ष स्थान हासिल किया। चूंकि फाइनल और क्वालीफिकेशन के बीच का अंतर इतना लंबा नहीं था, इसलिए उन्होंने फिर से अपनी ऊर्जा को वापस पाने के लिए केवल केले खाए और फिर अपने प्रतिद्वंद्वियों से आगे निकलने के लिए पहले पांच शॉट्स में 53.3 अंकों की बढ़त के साथ अपने स्वर्ण पदक जीतो अभियान की शुरुआत की।

वह हरियाणा की नैंसी और पश्चिम बंगाल की स्वाति चौधरी से आगे रहीं। मेहुली के प्रतिद्वंद्वियों ने उनपर दबाव बनाने की कोशिश की, लेकिन युवा खिलाड़ी स्थिर रही और उन्होंने धीरे-धीरे अपने स्वर्ण की तरफ कदम बढ़ाने शुरू कर दिए।मेहुली ने फाइनल में 253.7 अंकों के साथ स्वर्ण पदक जीता, जबकि हरियाणा की नैंसी ने 251.0 अंकों के साथ रजत और पश्चिम बंगाल की स्वाति चौधरी ने ओडिशा की श्रीयांका सडांगी को हराकर 229.4 अंकों के साथ कांस्य पदक अपने नाम किया।2024 पेरिस ओलंपिक के लिए कोटा पाने वाले 13 निशानेबाजों में से एक मेहुली ने 2024 की प्रमुख प्रतियोगिता से पहले फाइनल में मजबूती के साथ अपनी प्लानिंग बनाई।

पश्चिम बंगाल की प्रतिभाशाली राइफल निशानेबाज के अनुसार, हांग्झोऊ एशियाई खेलों में मेडल राउंड में एक गलती उन्हें महंगी पड़ी। उन्होंने कहा, ” यहां फाइनल में अच्छा स्कोर बनाना मेरे लिए महत्वपूर्ण था। मैंने हांग्झोऊ एशियाई खेलों के फाइनल में गलती की और व्यक्तिगत पदक नहीं जीत सकी।”मेहुली को अभी आगे बहुत सारे टूर्नामेंटों में भाग लेने हैं और वह उसके लिए मानसिक रूप से तैयार है। वह 18 नवंबर को दोहा विश्व कप फाइनल में प्रतिस्पर्धा करेंगी। दोहा के तुरंत बाद, वह नवंबर के तीसरे सप्ताह में दिल्ली के कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में राष्ट्रीय शूटिंग चैंपियनशिप में प्रतिस्पर्धा करेंगी। जबकि दिसंबर में वह राष्ट्रीय चयन ट्रायल में हिस्सा लेंगी। उन्होंने कहा, ” मेरी भविष्य की योजना फाइनल में स्थिर स्कोर पर ध्यान केंद्रित करने की है। 2024 में सही समय पर फिटनेस में सुधार और फिट रहना, अन्य दो प्रमुख क्षेत्र हैं जिन पर मुझे ध्यान केंद्रित करना है।

Check Also

गरीबी से जूझ रही छोटे शहर की लड़कियां पश्चिम बंगाल फुटबॉल टीम की हैं रीढ़

वास्को, 28 अक्टूबर, 2023: ऐसा प्रतीत होता है कि पश्चिम बंगाल के दक्षिण पश्चिम क्षेत्र का एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published.