Breaking News

मुख्यमंत्री ने अयोध्या धाम में 50 इलेक्ट्रिक बसों एवं 25 ई-ऑटो का फ्लैग ऑफ किया

लखनऊ : 14 जनवरी, 2024
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज अयोध्या धाम में नवनिर्मित मंदिर में भगवान श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा से पूर्व विभिन्न कार्यक्रमों में प्रतिभाग किया। इस अवसर पर उन्होंने ई-वाहनों (50 इलेक्ट्रिक बसों एवं 25 ई-ऑटो) का फ्लैग ऑफ कर अयोध्यावासियों को उपहार दिया। मुख्यमंत्री जी ने डिजिटल टूरिज्म ऐप तथा अयोध्या पुलिस की आधिकारिक वेबसाइट को भी लॉन्च किया।
इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि अयोध्या धाम में श्रीरामलला के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम से पूर्व आने वाले श्रद्धालुओं के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट की बेहतरीन सुविधा उपलब्ध हो सके, इस उद्देश्य से अयोध्या नगर निगम और अयोध्या सिटी में ई-बसों एवं ई-ऑटो का शुभारम्भ व टूरिज्म सेंट्रिक मोबाइल ऐप तथा अयोध्या पुलिस की आधिकारिक वेबसाइट को लॉन्च किया गया है। 22 जनवरी की तिथि भारत की श्रद्धा और आस्था को सम्मान देने तथा भारत के स्वाभिमान और सम्मान को पुनर्स्थापित करने की पावन तिथि है। जब प्रभु श्रीराम 500 वर्षों के बाद अपने भव्य मंदिर में विराजमान होंगे, तो न केवल अयोध्या धाम में, बल्कि पूरे देश और प्रदेश में रामराज्य की स्थापना का जो कार्य वर्ष 2014 में प्रारम्भ हुआ था, उसे मूर्त रूप प्रदान करते हुए यशस्वी भविष्य की कामना के साथ हमें श्रीराम का आशीर्वाद प्राप्त होगा।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि स्वाभाविक रूप से इस पौराणिक और ऐतिहासिक तिथि को आने वाले श्रद्धालुओं, भक्तों, आस्थावान यात्रियों और पर्यटकों की सुविधा के लिए अयोध्या सज-धज रही है। यहां इन्फ्रास्ट्रक्चर के कार्यों का उद्घाटन प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 30 दिसम्बर, 2023 को किया है। क्या कोई सोचता था कि अयोध्या में इतनी शानदार सड़कें होंगी। आज अयोध्या में राम पथ, भक्ति पथ, धर्म पथ, जन्मभूमि पथ को देखेंगे, तो हर कोई अभिभूत होगा। मल्टीलेवल पार्किंग, गुप्तार घाट से लेकर रामजी की पैड़ी और नए घाट तक घाटों का निर्माण, सूरजकुण्ड, भरतकुण्ड के सौंदर्यीकरण के कार्यक्रम को देखकर हर कोई अभिभूत हो जाएगा। इसी श्रृंखला में आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधाओं के लिए अवस्थापना के कार्य, अच्छे यात्री निवास, धर्मशालाओं का निर्माण, अच्छे होटल, टेन्ट सिटी भी बन रही है या बन चुकी है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आने वाले यात्रियों को कोई परेशानी न हो, इसके लिए इलेक्ट्रिक बसें, ई-ऑटो और अन्य सुविधाएं यहां पर प्रारम्भ हो रही हैं। डिजिटल टूरिस्ट ऐप के द्वारा आने वाला कोई भी श्रद्धालु अयोध्या के हर स्पॉट का अवलोकन कर सके और अयोध्या को नजदीक से निहार सके, इस दृष्टि से भी इस कार्यक्रम को आज यहां सम्पन्न किया गया है। मुख्यमंत्री जी ने अयोध्यावासियों को मकर संक्रांति की शुभकामनाएं और बधाई दी। उन्होंने अयोध्या आने वाले सभी श्रद्धालुजन का अभी से अग्रिम अभिनन्दन करते हुए कहा कि हजारों वर्षों बाद यह अवसर आता है, जब प्रभु की सेवा में कुछ कर गुजरने का अवसर मिलता है। हमारी पीढ़ी को यह अवसर मिला है। 500 वर्षों बाद प्रभु श्रीराम स्वयं के भव्य मंदिर में विराजमान होंगे। देश और दुनिया आतुर है कि कब उन्हें अयोध्या में प्रभु श्रीराम के दर्शन का अवसर मिलेगा। हम सौभाग्यशाली हैं कि यहां पर हमें प्रभु का आशीर्वाद मिल रहा है।

Check Also

प्राण प्रतिष्ठा के बाद श्रीराम लला मंदिर में दूसरे दिन भी भक्तों की भारी भीड़

अयोध्या, 24 जनवरी श्रीराम लला के बाल स्वरूप विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा अनुष्ठान के दूसरे …

Leave a Reply

Your email address will not be published.