Breaking News

पीएम किसान सम्मान निधि की 14वीं किश्त जारी

लखनऊ : 27 जुलाई, 2023

कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही द्वारा आज लखनऊ जनपद के माती गांव विकासखंड सरोजनी नगर में प्रधानमंत्री जी द्वारा किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत जारी की जा रही 14वीं किस्त के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में किसानों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने प्रदेश भारतीय किसानों की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर उन्होंने किसानों से सोलर पंप, समेकित कृषि प्रणाली, किसान क्रेडिट कार्ड, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में विस्तार से चर्चा की।

शाही ने किसानों के प्रिय नेता देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि कृषि तथा किसानों के प्रति उनकी संवेदनशीलता से किसानों के जीवन की गरिमा लगातार बढ़ रही है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की चौथी किस्त से उत्तर प्रदेश के इससे उत्तर प्रदेश के कुल 1.86 करोड़ कृषक लाभान्वित होंगे इनके बैंक खातों में 2 हजार रुपये प्रति 4 माह की दर से कुल 4167.41 करोड़ रुपये धनराशि स्थानांतरित की जाएगी। उन्होंने कहा कि आज किसानों को बीज से लेकर व्यापार तक की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जा रही है। सोलर सिंचाई पंप पर 30% राज्य सरकार 30% केंद्र सरकार के द्वारा अनुदान दिया जा रहा है। उन्होंने किसानों से कम पानी वाली फसलें अच्छा उत्पादन दे रही हैं उनकी लागत भी कम है ऐसे फसलों को लगाने की अपील की। ज्वार ,बाजरा सावां, कोदो, रागी को किसान भाई लगाए, लखनऊ का बाजार निकट है उन्हें अच्छा दाम भी प्राप्त होगा तथा इसकी खेती में लागत भी कम आएगी ।

इस वर्ष 60000 किसानों को श्री अन्न के नि:शुल्क मिनीकिट का वितरण किया गया। खरीफ के सभी फसलों के साथ-साथ श्री अन्न के फसलों का भी न्यूनतम समर्थन मूल्य पहले से जारी है। जिससे किसान भाई उसकी खेती कर अपनी आमदनी अच्छी करें। मक्के की खेती करें क्योंकि मक्का की फसल खरीफ रबी जायद तीनों सीजन में अच्छी उत्पादन देती है। भुट्टे के रुप में किसान भाइयों को अच्छी आमदनी होगी। इसके साथ ही किसान दलहन तिलहन की खेती करें इसमें लागत कम है मूल्य अच्छा मिलता है।सरकार ने गांव के भीतर ही रोजगार की व्यवस्था कराई है उसका लाभ लें।

रासायनिक खादों के संदर्भ में उन्होंने कहा कि डीएपी एवं यूरिया का प्रयोग कम करें ,अधिक प्रयोग से जमीन बंजर हो रही है, खेतों में ढैचे का प्रयोग करें, जिप्सम तथा ढैंचे दोनों पर कृषि विभाग से अनुदान मिल रहा है उसका लाभ उठावें। उन्होंने कहा कि आज माननीय प्रधानमंत्री जी ने सल्फर कोटेड यूरिया का शुभारंभ किया है इसका प्रयोग करें। इससे यूरिया की बचत होगी और भरपूर उपयोग होगा, यूरिया के नुकसान भी कम होंगे। उन्होंने किसानों से अधिक से अधिक पेड़ लगाने की अपील की। इससे जलवायु परिवर्तन के खतरों को नियंत्रित किया जा सकता है। इस अवसर पर माननीय मंत्री जी ने पांच पेड़ पीपल, बरगद, आंवला, गूलर तथा आम के लगाएं तथा अन्य किसानों ने भी लगभग 100 पेड़ लगाए।

Check Also

थाईलैंड में ‘कुशीनगर महापरिनिर्वाण स्थल’ बना आकर्षण का केन्द्र

लखनऊ: 23 फरवरी, 2024 थाईलैंड में 23 फरवरी से 3 मार्च तक आयोजित बुद्धभूमि कार्यक्रम …

Leave a Reply

Your email address will not be published.